Uncategorized

बर्फ में फिसलकर पाकिस्तानी सीमा में पहुंचे सेना के जवान का सुराग नहीं, तलाश जारी

नई दिल्ली। भारतीय सेना ने सोमवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर के गुलमर्ग में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर बर्फ में फिसलकर पाकिस्तान की सीमा में पहुंचे सैनिक का अभी पता नहीं चल सका है। जवान नियमित गश्त पर था, जब यह हादसा हुआ। सेना ने कहा है कि जवान की तलाश में अभियान जारी है।

सैनिक की पहचान हवलदार राजेंद्र सिंह नेगी के रूप में की गई है। आठ जनवरी को शाम सवा सात बजे वह गुलमर्ग सेक्टर सैन्य चौकी से 200 मीटर दूर थोड़ी ऊंचाई वाले इलाके में बर्फ में फिसल गए थे। देहरादून की अंबीवाला सैनिक कॉलोनी के रहने वाले नेगी का संबंध गढ़वाल राइफल्स से है।

सेना ने कहा है कि बचाव अभियान में मौसम की वजह से बाधा पड़ रही है। एक वरिष्ठ सैन्य अफसर ने कहा, “वह चौकी जहां यह हुआ, वह गुलमर्ग सेक्टर में एलओसी से दो सौ मीटर दूर है। उनकी तलाश में सभी प्रयास किए जा रहे हैं।” सेना ने इस आशय की रिपोर्ट को गलत बताया है कि लापता जवान पाकिस्तान में है। अधिकारी ने कहा, “यह महज अटकल है।”