City NewsRegional

महाराष्ट्र के वर्धा जिले में एकतरफा प्यार में जिंदा जलाई गई टीचर ने तोड़ा दम

मुंबई। महाराष्ट्र के वर्धा जिले में बीते 3 फरवरी को एक सिरफिरे द्वारा जिंदा जलाई गई 25 वर्षीया लेक्चरर की मौत हो गई है। उसने सोमवार सुबह नागपुर के अस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़ते हुए घटना के आठवें दिन दम तोड़ दिया। आपको बता दें कि एक युवक ने शादी से इंकार करने पर लड़की को पेट्रोल डालकर जला दिया था। लड़की 40 प्रतिशत से ज्यादा झुलस गई थी। उसकी आँखों की रौशनी चली गई थी और सुनाई देना भी बंद हो गया था। वह बीते सात दिनों से वेंटीलेटर पर थी।

‘ऑरेंज सिटी हॉस्पिटल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट’ के निदेशक डॉ अनूप मरार ने बताया कि पीड़िता की रविवार रात से हालत बिगड़नी शुरू हो गई और सुबह 6:55 बजे उसने दम तोड़ दिया। उन्होंने कहा कि उसका चेहरा, सिर, श्वसन प्रणाली, हृदय बुरी तरह से जल गया था और पूरे उपचार के दौरान उसकी हालत गंभीर बनी रही थी उसे दो दिनों से वेंटिलेटर पर रखा गया था।

घटना के बाद पुलिस ने आरोपी विकेश नागराले को गिरफ्तार कर लिया था। वह शादीशुदा है और एक बच्चे का पिता है। उधर, महिला लेक्चरर की मौत से प्रदेश में मातम छा गया है। महाराष्ट्र सरकार ने दोषी को जल्द से जल्द सख्त सजा देने का ऐलान किया। महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस चला कर दोषी को जल्द से जल्द सजा दी जाएगी।