RegionalTop News

बिहार चुनाव से पहले महागठबंधन में आई दरार, ये वजह आई सामने

पटना। बिहार के विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले महागठबंधन में दरारें दिखनी शुरू हो गई हैं। विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर शुक्रवार को पटना में महागठबंधन के तीन दलों के नेताओं ने बैठक की।

इस दौरान तीनों ने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के तेजस्वी यादव को अपना नेता मानने से इनकार कर दिया।  और शरद यादव को मुख्यमंत्री उम्मीदवार बनाने की मांग की है।

तीनों दलों के नेता जीतन राम मांझी (HAM), उपेंद्र कुशवाहा (RLSP) और मुकेश साहनी  (VIP) ने बिहार में होने वाले चुनाव में महागठबंधन की ओर से शरद यादव को सीएम का उम्मीदवार घोषित करने की मांग की। आपको बता दें कि इस बैठक में कांग्रेस और आरजेडी के किसी भी नेता का न्योता नहीं दिया गया था।

दरअसल, महागठबंधन के कई नेता इस बात को लेकर नाराज हैं कि आरजेडी ने एकतरफा फैसला करते हुए तेजस्वी को महागठबंधन का नेता और मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित कर रखा है। उनका कहना है कि तेजस्वी को मुख्यमंत्री का चेहरा बनाने को लेकर महागठबंधन के किसी भी दल से कोई विचार-विमर्श नहीं किया गया।

आज हुई इस बैठक के बाद आजतक से बात करते हुए जीतन राम मांझी ने कहा कि बैठक में जो भी निर्णय हुआ है उसकी जानकारी शनिवार को शरद यादव एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके देंगे। जीतन राम मांझी ने कहा कि हमारी बैठक आगे भी जारी रहेगी।

 

Mohammad Faique
the authorMohammad Faique