NationalTop News

नहीं संभले तो मच जाएगा हाहाकार, मई तक भारत में 13 लाख लोग होंगे कोरोना संक्रमित

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। अब तक भारत में कोरोना वायरस से 12 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि सरकार इसके प्रसार को रोकने की हर संभव कोशिश कर रही है। हालांकि, वैज्ञानिकों ने आंशका जाहिर की है कि अगर देश में संक्रमितों की इस रफ्तार से बढ़ती रही, तो मई के दूसरे हफ्ते तक भारत में 13 लाख कोरोना के मरीज हो जाएंगे।

भारत में कोरोना के मामलों की स्टडी करने वाले COV-IND-19 स्टडी ग्रुप के रिसर्चर्स ने मौजूदा आंकड़ों की स्टडी के बाद ये आशंका जाहिर की है। इस ग्रुप के डेटा साइंटिस्ट्स का मानना है कि भारत में टेस्टिंग रेट बहुत कम है. सिर्फ 18 मार्च को ही देश में कोरोना टेस्ट के लिए 11,500 सैंपल मिले. इससे समझा जा सकता है कि जांच के लिए लोग सामने नहीं आ रहे हैं।

COV-IND-19 स्टडी ग्रुप के एक साइंटिस्ट बताते हैं, ‘अभी तक COVID-19 का कोई वैक्सीन अप्रूव नहीं हुआ है और न ही कोई दवा ईजाद की जा सकी है। इस स्थिति में भारत के फेज 2 और फेज 3 के बीच में प्रवेश करने से और भी विनाशकारी परिणाम होंगे, क्योंकि भारत का हेल्थ केयर सिस्टम पहले से ही दबाव में है।

साइंटिस्ट के मुताबिक, अमेरिका या इटली जैसे अन्य देशों में ऐसा ही पैटर्न देखा गया।वहां COVID-19 धीरे-धीरे फैला और फिर अचानक तेजी से मामले सामने आने लगे। COV-IND-19 स्टडी ग्रुप ने कहा, ‘हमारा मौजूदा अनुमान भारत में शुरुआती चरण के आंकड़ों के आधार पर है, जो कि कम टेस्टिंग की वजह से है।