City NewsTop NewsUttar Pradesh

लखनऊ: प्रदर्शनकारियों पर सख्त हुए योगी, घंटाघर से कई महिलाएं गिरफ्तार

लखनऊ। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर लखनऊ में कई दिनों से चल रहे प्रदर्शन के खिलाफ पुलिस ने सख्त रुख अपनाना शुरू कर दिया है। घंटाघर पर चल प्रदर्शन के समर्थन में पहुंची समाजवादी छात्रसभा की नेेेेता पूजा शुक्ला समेत पांच महिलाओं को पुल‍िस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने शांत‍िभंग के आरोप में ये कार्रवाई की है। पूजा शुक्ला उस समय चर्चा में आयीं थीं जब उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काफिले को काला झंडा दिखाया था। छात्र नेता पूजा शुक्ला के अलावा जिन 5 महिलाओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, उनके बारे में अभी कोई जानकारी नहीं मिल पा रही है।

महिलाओं ने पुलिस पर धमकाने का आरोप लगाया है। पूजा शुक्ला की गिरफ्तारी के बाद महिलाओं ने वहां जमकर प्रदर्शन किया और आक्रोश व्यक्त किया। घंटाघर पर किसी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए आरएएफ की तैनाती की गई है। जानकारी के अनुसार पुलिस ने प्रदर्शन कर रही महिलाओं के बीच से सपा नेता पूजा शुक्ला समेत चार महिलाओं को गिरफ़्तार किया गया है। पुलिस और आरएएफ लगातार घंटाघर के आस-पास गश्त कर रही है।

बता दें लखनऊ के घंटाघर में चल रहे विरोध प्रदर्शन में शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे सादिक़ के बेटे सहित कई प्रदर्शनकारियों पर सीएए और एनआरसी के विरोध, ट्रैफिक जाम और धारा 144 के उलंघन में लखनऊ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। घंटाघर पर प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं के समर्थन में कल (शुक्रवार) सैकड़ों लोगों ने जुलूस निकाला था। घंटाघर के चारों ओर घूम-घूम कर जुलूस निकाला गया था।